Ketonic Diet in Hindi | कीटो डाइट

यदि आप कीटो जेनिक डाइट के प्लान और चार्ट का सही तरीके से रोजाना पालन नही करते हो तो आप अपना वजन इस डाइट से कभी भी कम नही कर पाओगे। कीटो डाइट अपने शरीर का वजन करने के लिए सबसे प्रसिद्ध डाइट है। आज हम आपको केटोजेनिक डाइट के प्लान व चार्ट के बारे में पूरी जानकारी देंगे।

कीटो डाइट से जुड़ी कुछ जरूरी बातें

यदि आप अपने शरीर का वजन कम करने के लिए किसी कीटो डाइट प्लान का उपयोग कर रहे हो तो इन सब बातों को ध्यान में रखना चाहिए। किसी भी कीटो डाइट को फॉलो करने से पहले आपको उसके बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए। कीटो डाइट के अंदर कार्बोहाइड्रेट नामक पदार्थ की मात्रा बहुत कम होती है जो वजन कम करने में बहुत सहायता प्रदान करता है।

कीटो डाइट का सबसे ज्यादा उपयोग वजन कम करने के लिए इसलिए किया जाता है क्योंकि ये डाइट हमारे शरीर मे कीटोशिश की स्थिति पैदा करने का कार्य करती है। इस स्थिति में हमारे शरीर मे जो फैट होता है वो ऊर्जा में बदल जाता है जिससे वजन कम होने लगता है। इसके साथ रोजाना नियमित रूप से कीटो डाइट को फॉलो करने से हमारे शरीर का मेटाबॉलिक रेट भी तेज होता जाता है।

वजन घटाने के लिए कीटो जेनिक डाइट्स | Weight Loss Keto Diet in Hindi

यदि आप रोजाना कीटो डाइट के प्लान को फॉलो करते हो तो एक दिन में आपके शरीर को लगभग 40 ग्राम से भी कम कार्बोहाइड्रेट पदार्थ पहुंचता है।

यदि आप भी कीटो डाइट का उपयोग करके अपना वजन कम करना चाहते हो तो आपके कीटो डाइट के प्लान में ये सब खाने के पदार्थ शामिल होने चाहिए

1. कम-कार्ब वाली सब्जियां

रोजाना ऐसी सब्जियों को खाना चाहिए जिनमे ऐसी स्‍टार्च की मात्रा नही होती हो क्योंकि उन सब्जियों में कैलोरी और कार्बोहाइड्रेट की मात्रा बहुत ही कम पाई जाती हैं।

आपको ऐसी सब्जियों के ही खाना है जिनमे बहुत कम मात्रा ने कार्बोहाइड्रेट पाया जाता हो जैसे की फूलगोभी, पत्‍ता गोभी, केल और ब्रोकोली आदि सब्जियां।

2. नट्स और सीड्स

नट्स और सीड्स ऐसे खाद्य पदार्थ होते है जिनमे बहुत ज्यादा मात्रा में वसा पाया जाता है और खाद्य पदार्थ लो कार्ब की श्रेणी में आते हैं।

इसके साथ इनमे फाइबर भी बहुत ज्यादा मात्रा में पाया जाता है, जिससे आपका पेट भरा रहता है और आपको भूख बहुत ही कम लगती है, आप बादाम, काजू, पिस्ता, चिया बीज, सन बीज आदि सभी खाद्य पदार्थो को अपने केटो जेनिक  आहार में शामिल कर सकते हैं।

3. नारियल तेल

आप नारियल के तेल को भी अपनी कीटो डाइट में केटोजेनिक आहार के रूप में शामिल कर सकते हो, क्योंकि नारियल तेल में मध्यम-श्रृंखला ट्राइग्लिसराइड्स पाए जाते हैं, ये हमारे शरीर मे जाकर केटोन्स में बदल जाते है जिससे हमारे शरीर को बहुत ज्यादा मात्रा में ऊर्जा मिलती है। मोटे लोगो के शरीर का वजन कम करने में नारियल का तेल बहुत मदद करता है।

4. दही

दही के अंदर बहुत ही ज्यादा मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है इसके साथ इसमे कुछ मात्रा में कार्बोहाइड्रेट भी पाया जाता है। दही को आप अपनी कीटो डाइट में एक किटोजेनिक आहार के रूप में खा सकते हो।

लगभग 150 ग्राम दही के अंदर 5 ग्राम कार्बोहाइड्रेट और 11 ग्राम प्रोटीन की मात्रा पाई जाती है,  इसके साथ आप दही में दालचीनी और अखरोट भी मिला सकते हो जिससे दही का टेस्ट और अच्छा हो जाएगा।

5. बटर

आप अपनी कीटो डाइट में बटर को भी केटोजेनिक आहार के रूप में शामिल कर सकते हो, क्योंकि बटर के अंदर बहुत ही कम मात्रा में कार्ब पाए जाते है।

कार्ब बहुत ही आसानी से हजम हो जाते है। बटर को बहुत ही कम मात्रा में खाना है, जिससे आपको अपना वजन कम करने में बहुत मदद मिलेगी।

6. चीज

चीज  बहुत सारे अलग अलग प्रकार के आते है इनमे बहुत ही कम मात्रा में कार्ब पाया जाता है लगभग 28 ग्राम शेडर चीज के अंदर 1 ग्राम कार्ब और 7 ग्राम प्रोटीन की मात्रा पाई जाती है। इसे भी आप अपने केटोजेनिक आहार के रूप में खा सकते हो।

7. अंडे

अंडे भी केटोजेनिक आहार के लिए बहुत ही अच्छे होते है, क्योंकि एक बड़े अंडे में लगभग 1 ग्राम कार्बोहाइड्रेट और 6 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है। अंडे हमारे शरीर के वजन को घटाने के साथ रक्त शर्करा के स्तर को भी नॉर्मल रखने में मदद करता है।

8. बेरीज

कीटोजेनिक डाइट को फॉलो करते समय बहुत सारे फलों को नही खाया जाता है क्योंकि ज्यादातर फलों के अंदर कार्ब की मात्रा बहुत ज्यादा पाई जाती है। परन्तु बेरीज ही एक ऐसा फल है जिसमे कार्ब की मात्रा बहुत ही कम पाई जाती है

ब्‍लैकबेरीज और रसभरी जैसी बेरीज के अंदर फाइबर की मात्रा बहुत ज्यादा पाई जाती है। जिससे आपको बहुत ही कम भूख लगती है और साथ ही इससे आपकी पाचन क्रिया भी मजबूत होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *